Politics

लौट के सिद्धू ‘घर’ को आए! बने रहेंगे पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष, बोले- आलाकमान का हर फैसला मंजूर

कांग्रेस के पंजाब प्रभारी हरीश रावत ने साफ कर दिया है कि सिद्धू ही पार्टी के अध्यक्ष होंगे. इस मुलाकात के बाद सिद्धू ने कहा था कि उन्हें पार्टी का हर फैसला मंजूर होगा.
कांग्रेस के पंजाब प्रभारी हरीश रावत ने साफ कर दिया है कि सिद्धू ही पार्टी के अध्यक्ष होंगे. इस मुलाकात के बाद सिद्धू ने कहा था कि उन्हें पार्टी का हर फैसला मंजूर होगा.
22views

पंजाब कांग्रेस में लंबे समय से जारी सियासी तनातनी के कम होने के आसार दिख रहे हैं. दिल्ली आए नवजोत सिंह सिद्धू (navjot singh sidhu) ने एक बार फिर साफ किया कि सोनिया, राहुल और प्रियंका गांधी वाड्रा ही उनके नेता हैं.

पंजाब कांग्रेस में सत्ता परिवर्तन के बाद भी राजनीतिक संघर्ष जारी है और उसे सुलझाने की कवायद भी की जा रही है. हालांकि एक बार फिर पंजाब को लेकर दिल्ली से मोहाली तक हलचल तेज हो गई है. पंजाब के मुख्यमंत्री ने आज पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह से मुलाकात की तो दिल्ली स्थित पंजाब भवन में नवजोत सिंह सिद्धू कांग्रेस के कई नेताओं से मिले.

पंजाब कांग्रेस (PCC) के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने वाले नवजोत सिंह सिद्धू आज दिल्ली में हैं और दिल्ली स्थित पंजाब भवन में थे जहां उनकी पार्टी के कई नेताओं से मुलाकात होनी है. दिल्ली में पार्टी के पंजाब प्रभारी हरीश रावत और केसी वेणुगोपाल से उनकी मुलाकात हुई.

इस बीच नवजोत सिंह सिद्धू ने एक बार फिर पार्टी आलाकमान पर भरोसा जताया. उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा ही मेरे नेता हैं, मुझे उनके नेतृत्व पर भरोसा है. आलाकमान का हर फैसला मंजूर है. तो वहीं हरीश रावत ने कहा कि अब साफ हो गया है कि सिद्धू पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष बने रहेंगे और संगठन को मजबूत करेंगे.

सिद्धू ने पार्टी के सामने रखे अपने विचार

इस मुलाकात के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि ‘मैंने पंजाब के और पंजाब कांग्रेस के प्रति जो भी कंसर्न थे और पार्टी आलाकमान को बताए हैं और मुझे पूरा भरोसा है कि वो जो भी निर्णय लेंगे वो पंजाब के हित में होगा. मैं उन्हें सर्वस्व मानता हूं.’ 

‘शुक्रवार को होगा सिद्धू के नाम का ऐलान’

पंजाब कांग्रेस में जारी उथल पुथल के बीच हरीश रावत का स्पष्ट किया कि, ‘सिद्धू का कहना है कि आलाकमान का आदेश उन्हें मान्य होगा और आदेश ये है कि वो पूरी शक्ति के साथ पंजाब कांग्रेस का काम संभाले और संगठन को मजबूत करें और शुक्रवार को इस मामले पर बड़ा विधिवत ऐलान कर दिया जाएगा.’ इसके अलावा हरीश रावत बोले कि ‘पार्टी में सब चीजें होती हैं बातचीत होती रहती है. फिलहाल कोई समस्या नहीं है चन्नी और सिद्धू बातचीत कर चुके हैं. इस मुद्दे पर कोई न कोई रास्ता निकल आएगा. कुछ चीजें ऐसी होती हैं जिनमें समय लगता है.’