BREAKING NEWS
सीट बंटवारे पर लालू के बेटों में बढ़ी तकरार, जहानाबाद से तेज प्रताप ने उतारा अपना उम्मीदवार

सीट बंटवारे पर लालू के बेटों में बढ़ी तकरार, जहानाबाद से तेज प्रताप ने उतारा अपना उम्मीदवार Featured

पटनाबिहार में आरजेडी चीफ लालू प्रसाद यादव के दोनों बेटे तेजस्वी और तेजप्रताप यादव के बीच लोकसभा सीट बंटवारे को लेकर तकरार बढ़ गई है. तेजस्वी के बड़े भाई तेज प्रताप ने जहानाबाद से चन्द्र प्रकाश यादव को 24 तारीख को चुनाव के लिए नामांकन करने को कह दिया है. जबकि तेजस्वी ने इस सीट से सुरेंद्र यादव को टिकट दिया है.

 

सारण सीट को लेकर भी नाराज हैं तेजप्रताप

 

 

इतना ही नहीं, तेजप्रताप ने शिवहर से भी अंगेश नाम के उम्मीदवार को टिकट देने को कहा है. वहीं, सारण लोकसभा सीट को लेकर भी तेजप्रताप नाराज हैं. सारण से उनके ससुर चंद्रिका राय को टिकट दिया गया है.

 

तेजप्रताप ने कहा है, ‘’मैंने जहानाबाद में उनके उम्मीदवार चंद्रप्रकाश को टिकट देने के लिए तेजस्वी से कहा, लेकिन उन्हें टिकट नहीं दिया गया. शिवहर से भी उनका उम्मीदवार अंगेश है, उन्हें टिकट देने को कहा और आश्वासन मिला.’’ तेज प्रताप ने साफ किया है कि टिकट नहीं मिलने पर भी उसे लड़ाया जाएगा.

 

दरअसल तेजप्रताप यादव शिवहर से अंगेश सिंह के लिए आरजेडी का टिकट देने के लिए पैरवी कर रहे हैं. अंगेश सिंह ने एबीपी न्यूज़ से साफ कहा कि तेजप्रताप जी ने आश्वासन दिया है, इसलिए टिकट उन्हीं को मिलेगा. अगर नहीं मिला तो तेजप्रताप उन्हें निर्दलीय चुनाव लड़ाएंगे और उनके लिए प्रचार करेंगे. अंगेश सिंह ने यह भी कहा है कि तेजप्रताप को अलग थलग किए जाने से पार्टी को नुकसान होगा.

 

सुरेंद्र यादव से क्यों नाराज हैं तेजप्रताप?

 

दरअसल, तेजप्रताप और जहानाबाद से आरजेडी उम्मीदवार सुरेंद्र यादव का सरकारी बंगला अगल बगल है. कुछ दिन पहले एक बारात सुरेंद्र यादव के घर के बाहर आई थी. ज़ोर से लाउडस्पीकर बजने की वजह से तेज प्रताप को सोने में दिक्कत हो रही थी. इसके बाद जब तेजप्रताप के समर्थक लाउडस्पीकर बन्द कराने पहुंचे तो दोनों नेताओं के समर्थकों के बीच लड़ाई हो गई और बात थाने तक पहुंच गई. बाद में बीच-बचाव हुआ, लेकिन तेजप्रताप और सुरेंद्र यादव के बीच तल्खी कम नहीं हुई.

About Author

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.