BREAKING NEWS
शपथ लेते ही एक्शन मोड में हेमंत सोरेन, 3 घंटे के भीतर बुलाई कैबिनेट बैठक शपथ लेते ही एक्शन मोड में हेमंत सोरेन, 3 घंटे के भीतर बुलाई कैबिनेट बैठक झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने राज्य के 11वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली है. शपथ ग्रहण के तत्काल बाद ही हेमंत सोरेन एक्श्न मोड में आ गए हैं. उन्होंने कैबिनेट की अहम बैठक शाम 5 बजे होनी है.

शपथ लेते ही एक्शन मोड में हेमंत सोरेन, 3 घंटे के भीतर बुलाई कैबिनेट बैठक Featured

  • हेमंत सोरेन ने रविवार दोपहर 2 बजे ली थी सीएम पद की शपथ
  • बैठक के बाद कैबिनेट सचिव करेंगे प्रेस ब्रीफिंग, देंगे जानकारी
  • राहुल गांधी, ममता बनर्जी ने शपथग्रहण समारोह में की शिरकत

झारखंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद हेमंत सोरेन एक्शन मोड में आ गए हैं. झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने रविवार दोपहर दो बजे झारखंड के 11वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली और महज तीन घंटे में कैबिनेट की अहम बैठक बुला ली.

हेमंत सोरेन कैबिनेट की अहम बैठक आज शाम 5 बजे बुलाई गई है. राज्यपाल द्रोपदी मुर्मू ने हेमंत सोरेन को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई है. हेमंत सोरेन कैबिनेट की इस बैठक के बाद पहले की तरह कैबिनेट सचिव प्रेस ब्रीफिंग करेंगे और कैबिनेट बैठक में लिए गए फैसले की जानकारी देंगे.

 

 

हेमंत सोरेन के शपथग्रहण समारोह का आयोजन रांची के मोरहाबादी मैदान किया गया. इस दौरान कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, शरद यादव, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, आरजेडी नेता तेजस्वी यादव समेत अन्य दिग्गज मौजूद रहे. हेमंत सोरेन के शपथग्रहण समारोह में पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास भी पहुंचे.

इसके अलावा सीपीएम नेता सीताराम येचुरी, सीपीआई महासचिव डी. राजा, डीएमके प्रमुख एम. के. स्टालिन, आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी भी हेमंत सोरेन के शपथग्रहण समारोह में शामिल रहे.

 

 

आपको बता दें कि झारखंड विधानसभा चुनाव में झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस और आरजेडी गठबंधन ने जीत दर्ज की है. अर्जुन मुंडा के नेतृत्व वाली राज्य सरकार में उपमुख्यमंत्री रह चुके हेमंत सोरेन इससे पहले 2013 में राज्य के सबसे कम उम्र के मुख्यमंत्री बने थे और वो दिसंबर 2014 तक इस पद पर रहे थे. साल 2014 में झारखंड में बीजेपी की सरकार बन गई और हेमंत सोरेन नेता प्रतिपक्ष बने रहे.

हेमंत सोरेन के साथ कांग्रेस नेता आलमगीर आलम व रामेश्वर उरांव और आरजेडी नेता सत्यानंद भोक्ता ने मंत्री पद की शपथ ली. रामेश्वर उरांव प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भी हैं.

Read 46 times
Rate this item
(0 votes)

9 Responses Found

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.