BREAKING NEWS
'INS विराट को टैक्सी बनाया': पूर्व एडमिरल बोले- छुट्टी पर नहीं थे राजीव गांधी 'INS विराट को टैक्सी बनाया': पूर्व एडमिरल बोले- छुट्टी पर नहीं थे राजीव गांधी 'INS विराट को टैक्सी बनाया': पूर्व एडमिरल बोले- छुट्टी पर नहीं थे राजीव गांधी

'INS विराट को टैक्सी बनाया': पूर्व एडमिरल बोले- छुट्टी पर नहीं थे राजीव गांधी Featured

एडमिरल रामदास ने पीएम मोदी के दावे के बाद गुरुवार को एक प्रेस रिलीज जारी की, जिसमें उन्होंने कहा कि राजीव गांधी की लक्षद्वीप यात्रा आधिकारिक थी, वह पिकनिक पर नहीं थे. बुधवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा था कि साल 1987 में छुट्टियां मनाने के लिए दिवंगत पीएम ने आईएएस विराट का निजी टैक्सी की तरह इस्तेमाल किया था.

 

 

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की आईएनएस विराट पर पिकनिक के पीएम नरेंद्र मोदी के दावे को पूर्व एडमिरल एल रामदास समेत और पूर्व एडमिरल अरुण प्रकाश ने खारिज कर दिया है. आईएनएस विराट के तत्कालीन कमांडिग अफसर विनोद पसरीचा ने भी इस दावे को झूठा बताया है. एडमिरल रामदास ने पीएम मोदी के दावे के बाद गुरुवार को एक प्रेस रिलीज जारी की, जिसमें उन्होंने कहा कि राजीव गांधी की लक्षद्वीप यात्रा आधिकारिक थी, वह पिकनिक पर नहीं थे. बुधवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा था कि साल 1987 में छुट्टियां मनाने के लिए दिवंगत पीएम ने आईएएस विराट का निजी टैक्सी की तरह इस्तेमाल किया था. वह अपने परिवार और सोनिया गांधी की फैमिली और सदस्यों के साथ 10 दिनों के लिए एक खास द्वीप पर छुट्टियां मनाने गए थे.   

 

क्या बोले एडमिरल रामदास

 

32 साल पुरानी इस घटना पर एडमिरल रामदास ने आईएनएस विराट के तत्कालीन कैप्टन और वाइस एडमिरल विनोद पसरीचा, आईएनएस विंध्यागिरी के कमांडिंग अफसर एडमिरल अरुण प्रकाश और आईएनएस विराट के साथ चल रहे आईएनएस गंगा के कमांडिंग अफसर वाइस एडमिरल मदनजीत सिंह के बयानों का भी हवाला दिया. उन्होंने कहा, राजीव गांधी पत्नी सोनिया गांधी के साथ त्रिवेंद्रम से लक्षद्वीप जाने के लिए आईएनएस विराट पर सवार हुए. वह त्रिवेंद्रम में नेशनल गेम्स प्राइज डिस्ट्रिब्यूशन के चीफ गेस्ट थे. उन्हें आइलैंड डिवेलपमेंट अथॉरिटी (आईडीए) के साथ मीटिंग की अध्यक्षता करने लक्षद्वीप जाना था.

पूर्व एडमिरल रामदास ने कहा कि उस समय सदर्न नेवल कमांड का कमांडिंग इन चीफ होने के कारण मैं भी आईएनएस विराट पर था. फ्लीट अभ्यास के लिए चार अन्य जहाज भी विराट के साथ थे. मैंने पीएम और उनकी पत्नी के लिए आईएनएस विराट पर डिनर भी आयोजित किया था. इसके अलावा विराट पर कोई अन्य पार्टी नहीं हुई न ही वहां कोई विदेशी शख्स था. एडमिरल रामदास ने आगे कहा, हालांकि राजीव गांधी और उनकी पत्नी हेलीकॉप्टर के जरिए स्थानीय लोगों से मिलने गए थे. लेकिन उनके साथ राहुल गांधी नहीं थे. अंतिम दिन बंगाराम द्वीप पर उनकी यात्रा के दौरान कुछ नेवल गोताखोरों को पीएम की सुरक्षा के लिए साथ भेजा गया था. ये सभी बैठकें दिसंबर 1987 में हुईं थीं. लेकिन गांधी परिवार के निजी इस्तेमाल के लिए किसी खास जहाज को नहीं भेजा गया था.  

 

भाषण में क्या बोला था मोदी ने

 

पीएम मोदी इन दिनों राजीव गांधी पर जमकर हमलावर हैं. भाषण में उन्होंने कहा था कि कांग्रेस के नामदार परिवार ने आईएनएस विराट का पर्सनल टैक्सी की तरह इस्तेमाल किया. तब राजीव गांधी पीएम थे और 10 दिनों के लिए छुट्टियां मनाने निकले थे. उनके लिए आईएनएस विराट को भेज दिया गया, जो उनके कुनबे को लेकर एक खास द्वीप पर ठहरा. छुट्टी मनाने वालों में इटली से आए राजीव गांधी के ससुराल वाले भी शामिल थे.

पीएम मोदी ने इस बारे में ट्वीट कर इंडिया टुडे की रिपोर्ट का हवाला भी दिया. इसमें कहा गया कि छुट्टी मनाने वालों में अमिताभ बच्चन, जया बच्चन और तीन बच्चे भी शामिल थे. उनके भाई अजिताभ की बेटी भी छुट्टी मनाने वालों में शामिल थीं. इसके अलावा प्रियंका और राहुल गांधी के 4 दोस्त, सोनिया गांधी की बहन, बहनोई और उनकी बेटी, सोनिया गांधी की मां, उनके भाई और मामा भी शामिल थे.

 

 

 

 

 

 

Read 70 times Last modified on Friday, 10 May 2019 12:11
Rate this item
(0 votes)

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.