BREAKING NEWS
ख़बरें सबसे तेज़

ख़बरें सबसे तेज़ (35)

home page

Latest News

मालदीव से सीधे श्रीलंका पहुंचे पीएम मोदी, धमाकों के बाद देश का दौरा करने वाले पहले विदेशी नेता

Sunday, 09 June 2019 07:32 Written by

कोलंबो: मालदीव दौरे के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज श्रीलंका पहुंचे हैं. पीएम मोदी यहां श्रीलंकाई राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना से मुलाकात करेंगे. पीएम मोदी सिर्फ कुछ घंटों के लिए ही यहां रुकेंगे. बड़ी बात यह है कि श्रीलंका में ईस्टर के मौके पर हुए सिलसिलेवार बम धमाकों के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस देश का दौरा करने वाले पहले विदेशी नेता हैं.

 

आतंक से निपटने में श्रीलंका की पूरी मदद करेगा भारत 

 

 

 

इस दौरे के बारे में भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा कि मोदी का यह दौरा श्रीलंका सरकार को यह बताने के लिए है कि हम उनके साथ बराबरी से खड़े हैं. मंत्रालय ने कहा कि आतंकवाद से निपटने में भारत सरकार श्रीलंका की पूरी मदद करेगी. उल्लेखनीय है कि ईस्टर के दिन हुए बम धमाकों में 11 भारतीय समेत 258 लोगों की जान चली गई थी.

 

 

 

 

पीएम मोदी का यह तीसरा श्रीलंकाई दौरा

 

पीएम मोदी का यह तीसरा श्रीलंकाई दौरा है. इससे पहले वे 2015 और 2017 में भी श्रीलंका दौरे पर जा चुके हैं. मंत्रालय ने कहा कि आतंकवाद से निपटने में भारत सरकार श्रीलंका की पूरी मदद करेगा. वहीं, कल मालदीव की संसद से पीएम मोदी ने पाकिस्तान पर प्रहार किया और कहा कि आतंकियों को धन और हथियार देने वालों पर कार्रवाई हो.

अलीगढ़ मर्डर केस: भारी फोर्स के बावजूद सड़कों पर उतरे लोग, आरोपियों को फांसी की मांग

Sunday, 09 June 2019 07:12 Written by

अलीगढ़ के टप्पल में मासूम बच्ची का अपहरण कर उसकी हत्या के बाद लोगों आक्रोश फूट पड़ा है. लोग सड़कों पर उतर कर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं और बच्ची के लिए इंसाफ की मांग कर रहे हैं. टप्पल में हालत कहीं बेकाबू न हो जाएं, इसे देखते हुए रविवार को दूसरे दिन भी सुरक्षा बलों ने फ्लैग मार्च किया. टप्पल में 30 मई को एक ढाई साल की बच्ची गायब हुई थी. 2 जून को उसका क्षत-विक्षत शव घर से 100 मीटर दूर मिला. बच्ची के पिता ने पहले ही दिन हत्या का शक मुहल्ले के जाहिद पर जताया था.

 

ढाई साल की इस बच्ची को इंसाफ दिलाने के लिए पूरा देश उठ खड़ा हुआ है. कहीं कैंडल मार्च निकाला जा रहा है तो कहीं पुलता फूंका जा रहा है. कहीं लोग अनशन पर बैठे हैं तो कहीं प्रतीकात्मक फांसी लगाकर लोग अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं. किसी को यकीन नहीं हो रहा है कि आखिर ढाई साल की मासूम बच्ची को कोई गला दबाकर मार कैसे सकता है. हर तरफ आक्रोश है, हर तरफ गुस्सा है.

रौंगटे खड़े करने देने वाली वारदात के खिलाफ अलीगढ़ में हिंदू महासभा के लोग भी सड़कों पर उतरे और मुस्लिम समाज भी. अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्रों ने भी आरोपियों को सूली पर चढ़ाने की मांग की. मध्य प्रदेश के राजगढ़ में मुस्लिम समाज ने दरिंदों का पुतला फूंक कर अपना गुस्सा जताया. यूपी के लखीमपुर में लोग इंसाफ की मांग पर अन्न त्याग कर धरने पर बैठ गए. 

 

 

टप्पल की मासूम की हत्या मामले में जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ रही है, सन्न कर देने वाले खुलासे भी सामने आ रहे हैं. पुलिस ने आजतक को बताया कि ढाई साल की बेटी को कितनी बर्बरता से मारा गया. बच्ची की सांसें गला दबाकर रोकी गई. इस वीभत्स हत्याकांड को आरोपी असलम के घर अंजाम दिया गया. शक है कि लाश को जाहिद के दुपट्टा से लपेट कर फ्रीज में छुपाया गया ताकि बदबू न आए.

इस घटना के बाद पूरे टप्पल में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है. एसपी (ग्रामीण) मणिलाल पाटीदार ने एएनआई से कहा, 'पुलिस के आश्वासन के बाद लोगों ने महापंचायत टाल दी है. इलाके में कानून व्यवस्था बनी रहे, इसके लिए सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है.' पुलिस ने इस हत्याकांड में अब तक मुख्य आरोपी जाहिद, उसके भाई मेहंदी, जाहिद की बीवी और जाहिद के दोस्त को दबोच लिया है जबकि गुनाह की एक और राजदार मेहंदी की पत्नी फरार है. एसआईटी जांच के बाद अब मामले की मजिस्ट्रेट से भी जांच कराई जा रही है.

 

 

दरिंदगी की सारी हदें पार कर देने वाली इस वारदात को लेकर अब वकीलों से मोर्चा खोल दिया. अलीगढ़ बार एसोसिएशन ने आरोपियों की तरफ से केस न लड़ने का फैसला किया है. दूसरी ओर हत्या के दो आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत मामला दर्ज कर मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में स्थानांतरित करवाने का फैसला लिया है. सरकार के एक प्रवक्ता ने कहा कि यह निर्णय योगी आदित्यनाथ की सरकार की ओर से लिया गया है. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अलीगढ़ आकाश कुलहरि ने कहा, "हम इसे राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के मामले के रूप में आगे बढ़ा रहे हैं, हम इसे एक फास्ट ट्रैक कोर्ट में लाने की कोशिश करेंगे. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में दुष्कर्म या एसिड हमले का जिक्र नहीं है. इस मामले में पांच पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है."

Bengal Updates LIVE: बंगाल में ऐलान-ए-जंग, प्रचार के 12 घंटे बाकी, मोदी-ममता की 2-2 रैलियां

Sunday, 09 June 2019 07:26 Written by

लोकसभा चुनाव 2019 की लड़ाई आखिरी चरण में पहुंचते ही दिलचस्प और कांटेदार हो गई है. बंगाल में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो में बवाल हुआ तो बीजेपी आक्रामक हो गई तो वहीं ममता बनर्जी ने भी पलटवार किया. इसी लड़ाई के बीच चुनाव आयोग ने बंगाल की नौ सीटों पर प्रचार के समय को 24 घंटे के लिए घटा दिया है. आज बंगाल में प्रचार का आखिरी दिन है इसलिए प्रचार पर जोर है.

 

Highlights
  • बंगाल में आर-पार की लड़ाई हुई तेज
  • चुनाव आयोग ने 24 घंटे कम किया प्रचार का समय
  • आज रात दस बजे तक हो सकेगा प्रचार
  • आज पीएम मोदी की दो रैलियां
  • ममता की तीन रैली और दो पदयात्रा
  • बंगाल की नौ सीटों पर होना है मतदान

 

 

 

 

बंगाल: आखिर कौन हैं वो ममता के दो अफसर जिनपर चुनाव आयोग ने की कार्रवाई?

लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के मतदान से पहले बंगाल में चुनावी लड़ाई जारी है. राजनीतिक हिंसा बढ़ते देख चुनाव आयोग ने बंगाल में प्रचार का समय कम कर दिया है तो वहीं ममता बनर्जी के करीबी अफसरों पर भी गाज गिरी है. अफसरों पर गाज गिरने के बाद ममता बनर्जी भड़क गईं और चुनाव आयोग को खूब खरी-खोटी सुनाई.
दरअसल, ममता बनर्जी चुनाव आयोग पर यूं ही नहीं भड़कीं. दरअसल, जिन अधिकारियों को हटाया गया या फिर शिफ्ट किया गया है, उनमें ममता बनर्जी के खास अफसर भी शामिल हैं. चुनाव आयोग ने बंगाल के प्रधान सचिव (गृह) अत्रि भट्टाचार्य को पद से हटाया. इसके साथ ही सीआईडी के ADG राजीव कुमार को भी उनके पद से हटाया गया.
 
 
 
 
कौन-कहां करेगा सभाएं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी - दो बंगाल (माथुरपुर, दमदम), तीन उत्तर प्रदेश (मऊ, चंदौली और मिर्जापुर).
ममता बनर्जी – माथुरपुर, डायमंड हार्बर, जोका (पदयात्रा), सुकांत सेतु (पदयात्रा)
महागठबंधन – वाराणसी 
अमित शाह – महाराजगंज, सिकंदरपुर, फेफना, देवरिया, गोरखपुर में रोड शो
योगी आदित्यनाथ – गाजीपुर, गोरखपुर

 

 

 

मोदी के गढ़ में महागठबंधन


19 मई को होने वाले आखिरी चरण के मतदान में वाराणसी में भी वोट डाले जाएंगे. इससे पहले आज बसपा प्रमुख मायावती और समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव वाराणसी में आज रैलियों को संबोधित करेंगे. वाराणसी से खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनाव लड़ रहे हैं, ऐसे में विपक्ष उन्हें घेरने पर जुटा है. बुधवार को ही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी वाराणसी में रोड शो किया था. 

 

 

 

चुनाव आयोग ने लिया था एक्शन


आयोग ने बंगाल में गुरुवार रात 10 बजे से चुनाव प्रचार पर रोक लगा दी है. इसके अलावा आयोग ने  पश्चिम बंगाल के प्रधान सचिव (गृह) अत्रि भट्टाचार्य और सीआईडी के अतिरिक्त महानिदेशक राजीव कुमार को उनके पदों से हटाने का आदेश दिया है. उधर चुनाव आयोग के सख्त कार्रवाई पर ममता बनर्जी भड़क गई हैं. उन्होंने कहा कि बीजेपी के निर्देश पर चुनाव आयोग ने ये फैसला लिया है.
राजीव कुमार वही पुलिस अफसर हैं जो इसके पहले कोलकाता के पुलिस कमिश्नर थे और जिनके घर पर सीबीआई ने छापा मारा था. चुनाव आयोग ने उन्हें फौरन केंद्रीय गृहमंत्रालय में हाजिर होने को कहा है. आयोग ने सोशल मीडिया पर वीडियो डालने पर भी बैन लगा दिया है.

 

 

 

 

 

 

 

देवघर "बाबाधाम" झारखंड में पीएम मोदी का बड़ा हमला, कहा- कांग्रेस में नाखून काटकर शहीद होने की होड़ मची है

Thursday, 16 May 2019 04:37 Written by

आज झारखंड के देवघर में पीएम मोदी ने एक चुनावी जनसभा को संबोधित किया. संबोधन के दौरान मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपने नामदार को बचाना चाहती है. उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस में नाखून काटकर शहीद होने की होड़ मची है.देवघर भारत के झारखंड राज्य का एक शहर है। यह शहर हिन्दुओं का प्रसिद्ध तीर्थ-स्थल है। इस शहर को "बाबाधाम" नाम से भी जाना जाता है क्योंकि शिव पुराण में देवघर को बारह जोतिर्लिंगों में से एक माना गया है। यहाँ भगवान शिव का एक अत्यंत प्राचीन मंदिर स्थित है। हर सावन में यहाँ लाखों शिव भक्तों की भीड़ उमड़ती है जो देश के विभिन्न.

 

 

 

लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के मतदान से पहले बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड के देवघर में चुनावी सभा को संबोधित किया. यहां पीएम के निशाने पर कांग्रेस पार्टी रही, साथ ही उन्होंने महागठबंधन पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने नतीजों की तैयार भी शुरु कर दी है, हार के बाद उसका ठीकरा किसके सिर पर फोड़े इसकी तैयारी कांग्रेस कर रही है. नामदार को बचाने के लिए क्या किया जाए इसके लिए वहां अभ्यास चल रहा है.

रैली में PM नरेंद्र मोदी बोले कि कांग्रेस को नामदार को बचाने की कोशिशें इसलिए करनी पड़ रही हैं, क्योंकि हार का ठीकरा उनपर नहीं फोड़ा जा सकता है ये वंशवाद के उसूलों के खिलाफ होगा. उन्होंने कहा कि नामदार को बचाने के लिए नाखून काटकर शहीद होने वालों की होड़ लगी है.

बता दें कि प्रधानमंत्री का ये बयान उस समय आया है जब महागठबंधन के सदस्य लगातार बैठकें कर रहे हैं और यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने भी विपक्षी नेताओं से बात की है.

 

पित्रोदा-अय्यर पर भी किया हमला

पीएम मोदी ने कहा कि आपने देखा होगा कि पांचवें चरण के बाद ही नामदार परिवार के दो सबसे करीबी दरबारियों ने अपनी तरफ से बैटिंग शुरू कर दी है, वरना इनकी हिम्मत नहीं है कि बिना कप्तान से पूछे, मैच खेलने मैदान में उतर जाएं. उन्होंने कहा कि एक बल्लेबाज तो नामदार के गुरु हैं जिन्हें मैदान में उतारा गया है, इन्होंने सिखों की भावनाओं का मजाक उड़ाते हुए कहा कि 84 का सिख दंगा हुआ तो हुआ!

प्रधानमंत्री ने कहा कि वोट के लिए महामिलावटी किसी को भी ठग सकते हैं. कांग्रेस ने कई साल तक देश में शासन किया, लेकिन उन्होंने आदिवासियों को सिर्फ अपना वोटबैंक समझा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि एक तरफ हम झारखंड के विकास के लिए समर्पित हैं, वहीं दूसरी तरफ झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस के लोग घुसपैठियों के साथ खड़े हैं. लेकिन भाजपा का स्पष्ट मत है कि हम देश में एक-एक घुसपैठिए की पहचान करेंगे. ये हमारे संसाधनों के साथ-साथ हमारी सुरक्षा के लिए भी बहुत बड़ा खतरा हैं.

पीएम बोले कि आतंकवाद ऐसी चुनौती है जिसका बहुत कड़ाई से मुकाबला किया जाना जरूरी है. लेकिन कांग्रेस और उसके साथियों की नीतियां ऐसी रही हैं कि वो आतंकवाद और नक्सलवाद को कुचल नहीं सकतीं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस अब देशद्रोह का कानून भी खत्म करना चाहती है. यानि पत्थरबाजों, आतंकियों और उनके समर्थकों, नक्सलियों और उन्हें खाद पानी देने वालों को कांग्रेस खुली छूट देना चाहती है.

 

 

 

शीला ने केजरीवाल से कहा, 'अफवाह नहीं फैलाएं, खाने पर आएं', कुमार विश्वास ने ली चुटकी, 'आपने दरवाजा ही नहीं खोला'

Wednesday, 15 May 2019 12:13 Written by

दिल्ली में मतदान से पहले आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित के बीच जमकर वार पलटवार चला. ट्विटर पर जारी इस जंग में कुमार विश्वास ने भी शीला दीक्षित के ट्वीट को कोट करते हुए केजरीवाल की चुटकी ली.

 

ट्विटर पर ट्वीट करते हुए शीला दीक्षित ने अरविंद केजरीवाल पर हमला किया और कहा, ''अरे भाई अरविंद केजरीवाल मेरी सेहत को ले कर क्यूं गलत अफवाहें फैला रहे हो? अगर कोई काम नहीं हो तो आ जाओ भोजन पर. मेरी सेहत भी देख लेना, भोजन भी कर लेना और अफवाहें फैलाए बिना चुनाव लड़ना भी सीख लेना.''

 

 

 

शीला दीक्षित के ट्वीट पर पलटवार करते हुए अरविंद केजरीवाल ने लिखा, ''मैंने आपकी सेहत पर कब कुछ बोला? कभी नहीं. मेरे परिवार ने मुझे बुजुर्गों की इज्जत करना सिखाया है. भगवान आपको अच्छी सेहत और लम्बी उम्र दे. जब आप अपने इलाज के लिए विदेश जा रहीं थीं तो मैं बिना बुलाए आपकी सेहत पूछने आपके घर आया था. बताइए आपके घर भोजन करने कब आऊं?''

 

 

 

 

केजरीवाल के इस ट्वीट के बाद कुमार विश्वास ने चुटकी ली और बिना नाम लिए अरविंद केजरीवाल पर करारा हमला बोला. उन्होंने कहा, ''बे तो तीन महीने से चक्कर लगा रए थे आपके दरवज्जे पै, आप नैई दरवज्जा नई खोला. हां नईं तो...'' कुमार विश्वास के ट्वीट के बाद शीला दीक्षित ने उन्हें जवाब दिया और कहा कि तुम तो सब को लाजवाब कर देते हो.

 

 

 

 

सोशल मीडिया पर यह ट्वीट चर्चा का विषय बन गया. लोगों ने जमकर केजरीवाल की खिंचाई की. कुछ लोगों ने ट्वीट को कोट करते हुए भी केजरीवाल को घेरा.

 

 

 

 

'INS विराट को टैक्सी बनाया': पूर्व एडमिरल बोले- छुट्टी पर नहीं थे राजीव गांधी

Friday, 10 May 2019 12:11 Written by

एडमिरल रामदास ने पीएम मोदी के दावे के बाद गुरुवार को एक प्रेस रिलीज जारी की, जिसमें उन्होंने कहा कि राजीव गांधी की लक्षद्वीप यात्रा आधिकारिक थी, वह पिकनिक पर नहीं थे. बुधवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा था कि साल 1987 में छुट्टियां मनाने के लिए दिवंगत पीएम ने आईएएस विराट का निजी टैक्सी की तरह इस्तेमाल किया था.

 

 

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की आईएनएस विराट पर पिकनिक के पीएम नरेंद्र मोदी के दावे को पूर्व एडमिरल एल रामदास समेत और पूर्व एडमिरल अरुण प्रकाश ने खारिज कर दिया है. आईएनएस विराट के तत्कालीन कमांडिग अफसर विनोद पसरीचा ने भी इस दावे को झूठा बताया है. एडमिरल रामदास ने पीएम मोदी के दावे के बाद गुरुवार को एक प्रेस रिलीज जारी की, जिसमें उन्होंने कहा कि राजीव गांधी की लक्षद्वीप यात्रा आधिकारिक थी, वह पिकनिक पर नहीं थे. बुधवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा था कि साल 1987 में छुट्टियां मनाने के लिए दिवंगत पीएम ने आईएएस विराट का निजी टैक्सी की तरह इस्तेमाल किया था. वह अपने परिवार और सोनिया गांधी की फैमिली और सदस्यों के साथ 10 दिनों के लिए एक खास द्वीप पर छुट्टियां मनाने गए थे.   

 

क्या बोले एडमिरल रामदास

 

32 साल पुरानी इस घटना पर एडमिरल रामदास ने आईएनएस विराट के तत्कालीन कैप्टन और वाइस एडमिरल विनोद पसरीचा, आईएनएस विंध्यागिरी के कमांडिंग अफसर एडमिरल अरुण प्रकाश और आईएनएस विराट के साथ चल रहे आईएनएस गंगा के कमांडिंग अफसर वाइस एडमिरल मदनजीत सिंह के बयानों का भी हवाला दिया. उन्होंने कहा, राजीव गांधी पत्नी सोनिया गांधी के साथ त्रिवेंद्रम से लक्षद्वीप जाने के लिए आईएनएस विराट पर सवार हुए. वह त्रिवेंद्रम में नेशनल गेम्स प्राइज डिस्ट्रिब्यूशन के चीफ गेस्ट थे. उन्हें आइलैंड डिवेलपमेंट अथॉरिटी (आईडीए) के साथ मीटिंग की अध्यक्षता करने लक्षद्वीप जाना था.

पूर्व एडमिरल रामदास ने कहा कि उस समय सदर्न नेवल कमांड का कमांडिंग इन चीफ होने के कारण मैं भी आईएनएस विराट पर था. फ्लीट अभ्यास के लिए चार अन्य जहाज भी विराट के साथ थे. मैंने पीएम और उनकी पत्नी के लिए आईएनएस विराट पर डिनर भी आयोजित किया था. इसके अलावा विराट पर कोई अन्य पार्टी नहीं हुई न ही वहां कोई विदेशी शख्स था. एडमिरल रामदास ने आगे कहा, हालांकि राजीव गांधी और उनकी पत्नी हेलीकॉप्टर के जरिए स्थानीय लोगों से मिलने गए थे. लेकिन उनके साथ राहुल गांधी नहीं थे. अंतिम दिन बंगाराम द्वीप पर उनकी यात्रा के दौरान कुछ नेवल गोताखोरों को पीएम की सुरक्षा के लिए साथ भेजा गया था. ये सभी बैठकें दिसंबर 1987 में हुईं थीं. लेकिन गांधी परिवार के निजी इस्तेमाल के लिए किसी खास जहाज को नहीं भेजा गया था.  

 

भाषण में क्या बोला था मोदी ने

 

पीएम मोदी इन दिनों राजीव गांधी पर जमकर हमलावर हैं. भाषण में उन्होंने कहा था कि कांग्रेस के नामदार परिवार ने आईएनएस विराट का पर्सनल टैक्सी की तरह इस्तेमाल किया. तब राजीव गांधी पीएम थे और 10 दिनों के लिए छुट्टियां मनाने निकले थे. उनके लिए आईएनएस विराट को भेज दिया गया, जो उनके कुनबे को लेकर एक खास द्वीप पर ठहरा. छुट्टी मनाने वालों में इटली से आए राजीव गांधी के ससुराल वाले भी शामिल थे.

पीएम मोदी ने इस बारे में ट्वीट कर इंडिया टुडे की रिपोर्ट का हवाला भी दिया. इसमें कहा गया कि छुट्टी मनाने वालों में अमिताभ बच्चन, जया बच्चन और तीन बच्चे भी शामिल थे. उनके भाई अजिताभ की बेटी भी छुट्टी मनाने वालों में शामिल थीं. इसके अलावा प्रियंका और राहुल गांधी के 4 दोस्त, सोनिया गांधी की बहन, बहनोई और उनकी बेटी, सोनिया गांधी की मां, उनके भाई और मामा भी शामिल थे.

 

 

 

 

 

 

बिहार में वोटिंग के दौरान होटल में मिली EVM, लोगों ने किया हंगामा, चुनाव अधिकारी को नोटिस

Thursday, 09 May 2019 14:28 Written by

सोमवार को बिहार की मुजफ्फरपुर लोकसभा सीट पर चल रही वोटिंग के दौरान एक स्थानीय होटल से ईवीएम मिलने की खबर को लेकर हंगामा हो गया. स्थानीय लोगों को जैसे ही ईवीएम होने की खबर मिली, लोगों ने जमा होकर हंगामा करना शुरू कर दिया. जिस अधिकारी के पास से ईवीएम बरामद हुआ वह दरअसल उस ईवीएम का संरक्षक और सेक्टर मजिस्ट्रेट था.

 

सेक्टर मजिस्ट्रेट अवेधश कुमार उस ईवीएम के संरक्षक थे. उन्होंने अपनी सफाई में कहा कि उनकी टीम 4 ईवीएम मशीनों को बैकअप पर लेकर चल रही थी जिससे अगर किसी पोलिंग बूथ पर ईवीएम खराब हो जाती है तो उसे तत्काल बदला जा सके.

 

इसी दौरान उनकी गाड़ी के ड्राइवर ने उनसे निकट के पोलिंग बूथ संख्या 1 पर जाकर मतदान करने की इच्छा जताई. इसके बाद ही अवधेश कुमार उस मतदान केंद्र के पास ही एक होटल में ईवीएम मशीन को लेकर उतर गए. जैसे ही मतदान केंद्र पर कुछ लोगों को इस बात की जानकारी हो गई. पोलिंग एजेंटों को जब इस बात की जानकारी मिली कि सेक्टर मजिस्ट्रेट के पास दो ईवीएम मशीन है तो वे गड़बड़ी की आशंका जताते हुए हंगामा करने लगे.

 

इसी बीच, मतदान केंद्र पर पोलिंग एजेंटों को जब इस बात की भनक लगी की सेक्टर मजिस्ट्रेट के पास दो ईवीएम मशीन है तो वह गड़बड़ी की आशंका जताते हुए हंगामा करने लगे. हंगामा होने के बाद स्थानीय एसडीओ कुंदन कुमार वहां पर पहुंचे और चारों ईवीएम मशीन को अपने कब्जे में ले लिया. मुजफ्फरपुर जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष ने मामले की जांच कर कार्रवाई की बात कही है. सेक्टर मजिस्ट्रेट अवधेश कुमार को इस लापरवाही के लिए कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया है ईवीएम मशीन होटल में कैसे पहुंची.

 

बिहार की मुजफ्फरपुर लोकसभा सीट समेत पांच सीटों पर 6 मई को पांचवें चरण में वोटिंग हुई. इस चरण में सात राज्यों की कुल 51 लोकसभा सीटों पर वोट डाले गए. इन 51 लोकसभा सीटों पर कुल 674 उम्मीदवार अपनी चुनावी किस्मत आजमा रहे हैं. पांचवें  चरण में कुल 60.29 फीसदी वोट पड़े, जबकि मुजफ्फरपुर सीट पर 61.27 फीसदी मतदान दर्ज किया गया. लोकसभा चुनावों के नतीजे 23 मई को घोषित किए जाएंगे.

 

 

 

 

 

 

यूपी: नफरत की दीवारें खड़ी कर राजनीति करती है बीजेपी- अखिलेश यादव

Tuesday, 07 May 2019 05:25 Written by

बहराइच: समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को कहा कि भाजपा डराकर और नफरत की दीवारें खड़ी कर राजनीति करती है जबकि नफरत की खाई को पाटने का काम महागठबंधन कर रहा है.

 

अखिलेश ने बहराइच, श्रावस्ती और कैसरगंज लोकसभा सीटों से सपा-बसपा गठबंधन प्रत्याशियों के समर्थन में एक जनसभा में कहा, 'पांच साल जनता का काम नहीं कर सकी सरकार अब वोट के लिए मजबूत सरकार और आतंकवाद की दुहाई दे रही है.' उन्होंने पूछा कि आतंकवाद के खिलाफ भी इस कथित मजबूत सरकार ने क्या किया? हर दिन एक जवान शहीद हो रहा है और सवाल पूछने वाले को राष्ट्र विरोधी कह डालते हैं.

 

 

 

अखिलेश ने कहा कि सपा-बसपा ने मिलकर बनारस में ऐसा दांव चला कि आतंकवाद खत्म करने का दम भरने वाली सरकार वहां एक सिपाही से घबरा गयी. अखिलेश ने आरोप लगाया कि सरकार ने साजिश करके कागजों में कमी बताकर उसे चुनाव नहीं लड़ने दिया.

 

उन्होंने कहा कि वो सिपाही तो सरकार से फौजियों को मिलने वाली पतली दाल, बासी रोटी, घटिया वर्दी व घटिया जूते-मोज़े आदि से संबंधित सवाल भर पूछना चाहता था, लेकिन भाजपा वाले उसे नहीं झेल सके.

 

अखिलेश ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपनी जाति के नाम पर देश को धोखा दे रहे हैं. बीजेपी वाले प्रधानमंत्री को पहले पिछड़ा कहते थे, अब अति पिछड़ा बता रहे हैं. सही कागज चेक कर लो तो कुछ भी नहीं निकलेगा.

 

पूर्व मुख्यमंत्री ने गोण्डा की चुनावी जनसभा में कहा, 'पिछले पांच वर्षों में केन्द्र में सत्तारूढ़ भाजपा सरकार ने केवल धोखा दिया है और झूठ बोला है. अब देश की जनता उनसे गिन गिनकर हिसाब लेगी.' सपा नेता ने सवाल किया कि किसानों को लाभकारी मूल्य देने का वायदा, दो करोड़ बेरोजगारों को नौकरियां, गरीबों के खाते के 15 लाख रुपए कहां गए.

 

उन्होंने कहा कि इसके विपरीत महंगाई बढ़ी है. डीजल, खाद आदि की कीमतें बढ़ने से किसान बदहाल हो गए हैं.