BREAKING NEWS
'सारे मोदी चोर' बोलकर फंसे राहुल गांधी, बिहार में सुशील मोदी ने किया मानहानि का केस 'सारे मोदी चोर' बोलकर फंसे राहुल गांधी, बिहार में सुशील मोदी ने किया मानहानि का केस 'सारे मोदी चोर' बोलकर फंसे राहुल गांधी, बिहार में सुशील मोदी ने किया मानहानि का केस

'सारे मोदी चोर' बोलकर फंसे राहुल गांधी, बिहार में सुशील मोदी ने किया मानहानि का केस

लोकसभा चुनावों के साथ नेताओं की बदजुबानी भी जारी है। साथ ही जारी है आरोप-प्रत्यारोप का दौर। कुछ दिन पहले एक रैली में राहुल गांधी ने 'सारे मोदी चोर हैं' बोल दिया। अब राहुल के इस बयान को लेकर बीजेपी हमलावर है। राहुल पर मानहानि का केस कर दिया गया है।

 

 

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी 'सारे मोदी चोर हैं' के अपने बयान पर बुरी तरह से फंसते दिख रहे हैं। बीजेपी इस बयान को लेकर राहुल पर हमलवार है। उधर, बिहार में बीजेपी के वरिष्ठ नेता और सूबे के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने अब राहुल के खिलाफ मानहानि का केस दर्ज कराया है। बता दें कि इससे पहले पीएम नरेंद्र मोदी भी इस बयान को लेकर राहुल पर हमला बोल चुके हैं। 

 

 

सारे मोदी चोर' के बयान को लेकर सुशील मोदी ने मानहानिक का केस दर्ज करते हुए कहा, राहुल गांधी के इस तरह के भाषण से मोदी टाइटल वाले व्यक्ति हैं, उनको चोर बताया गया है। इससे समाज में उनकी छवि धूमिल हुई है। मोदी ने यह भी कहा है कि यह आपराधिक कृत्य है, जिसकी सजा कोर्ट द्वारा राहुल गांधी को जरूर मिलनी चाहिए। 

 

 

बता दें कि एक जनसभा में राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए यह विवादित बयान दिया था। राहुल ने कहा था, आखिर सभी चोरों का नाम मोदी क्यों हो सकता है। इस दौरान राहुल ने भगोड़े उद्योगपतियों ने नीरव और ललित मोदी का उदाहरण देते हुए इसका जिक्र किया था। राहुल ने कहा था, 'सारे चोरों के उपनाम मोदी क्यों हैं।' 

 

 

पीएम ने भी राहुल पर बोला था हमला 


उधर, पीएम मोदी ने राहुल पर पलटवार करते हुए कहा था, कांग्रेस रोज अपनी हदें पार कर रही है। जिसके नाम के साथ में मोदी लगा है उसे वह चोर कह रहे हैं। यह कैसी राजनीति का स्तर है। इन्होंने पूरे एक समाज को चोर बोल दिया है, वह भी सिर्फ तालियां बजवाने के लिए। प्रधानमंत्री ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा था कि यह आपके इस चौकीदार को नीचा दिखाने की मानसिकता है। पीएम ने कहा कि यह सल्तनत वाली मानसिकता है जिसमें हर शोषित वंचित समाज को हीन नजर से देखा जाता है तथा उसे अपना गुलाम समझा जाता है।

 

 

 

About Author

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.